सर्च

खुशखबरी- हरिद्वार में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट बनाने की तैयारी में उत्तराखंड सरकार।


रिपोर्ट - इन्तजार रजा
उत्तराखंड/हरिद्वार: धर्मनगरी हरिद्वार को उत्तराखंड की धार्मिक राजधानी माना जाता है। उत्तराखंड के प्रवेश का द्वार हरिद्वार ही है और यहीं से चारों धाम की यात्रा शुरू होती है धर्म नगरी हरिद्वार में रेल और बसों के माध्यम से लाखों की संख्या में श्रद्धालु हरिद्वार आते हैं और मां गंगा में आस्था की डुबकी लगाते हैं। इसके साथ ही काफी संख्या में यात्री चार धाम की यात्रा हरिद्वार से शुरू करते हैं। हरिद्वार में कोई एयरपोर्ट ना होने के कारण कई यात्रियों को काफी परेशानी का भी सामना करना पड़ता है। वही देश-विदेश से आने वाले यात्री श्रद्धालु भी सीधा उत्तराखंड नही पहुच पाते है। इस दिशा में कार्य करते हुए अब उत्तराखंड सरकार जल्द ही हरिद्वार में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट बनाने की तैयारी कर रही है। इसको लेकर आज हरिद्वार के प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज द्वारा एक कमेटी का गठन कर दिया गया है जिससे हरिद्वार में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट बनने की आस स्थानीय लोगो मे जगी है।

हरिद्वार में बनने वाले अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट की वजह से जहा यहां आने वाले देश-विदेश के श्रद्धालुओ को आवागमन में अच्छी सुविधा मिल सकेगी तो वही इसका सीधा लाभ हरिद्वार की जनता को भी मिलेगा हरिद्वार के प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज का कहना है कि हरिद्वार में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट बनाने की पूर्व से चर्चा है और इस कार्य मे गति लाने के लिए एक कमेटी का गठन आज किया गया है इस कार्य के लिए भूमि की खोज की जा रही है जिस पर हवाई पट्टी और सम्पूर्ण सुविधाओ से लैस एयरपोर्ट का निर्माण किया जा सके एयरपोर्ट के निर्माण होने के बाद दुनिया के विभिन्न देशों से फ्लाइट सीधे हरिद्वार एयरपोर्ट पर पहुचेंगी एयरपोर्ट बनने से स्थानीय लोगो को फायदा होगा और उन्हें रोजगार भी मिलेगा।हरिद्वार का वैभव बढ़ाने के लिए और हरिद्वार की उन्नति के लिए हमारे द्वारा यह प्रयास किया जा रहा है बड़े जहाज भी हरिद्वार में बनने वाले एयरपोर्ट पर उतर सके ऐसी संभावनाओं को भी हरिद्वार में तलाशा जा रहा हैं।

प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज के द्वारा आज हरिद्वार में बनने वाले अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के लिए एक कमेटी का गठन कर दिया है प्रभारी मंत्री की इस घोषण से हरिद्वार वासियों को भी रोजगार और दूसरी सुविधाएं मिलने की आस जगी है अब आने वाले समय में देखने वाली बात यह होगी कि कब तक इस कमेटी द्वारा एयरपोर्ट बनाने के लिए भूमि की खोज कर ली जाती है और कब तक इस अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का निर्माण हो पाता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ