सर्च

श्री राम जन्मभूमि - भव्य राम मंदिर के निर्विघ्न निर्माण एवम शुभारम्भ हेतु दक्षिणी दिल्ली में हुआ यज्ञ


नई दिल्ली - 5 अगस्त को अयोध्या में भगवान श्री राम के भव्य राम मंदिर का ऐतिहासिक भूमि पूजन कार्यक्रम देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया जाएगा। भूमि पूजन और उसके उपरांत मंदिर का निर्माण कार्य अच्छे से और तेजी से पूरा हो, इसके लिए दक्षिणी दिल्ली में 26 जुलाई को हवन का आयोजन किया गया।

इस हवन कार्यक्रम में विश्व हिन्दू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता व इस कार्यक्रम के मुख्यवक्ता विनोद बंसल ने कहा कि 'इसी यज्ञशाला में बैठकर हमने जन्मभूमि की मुक्ति के लिए अनेक यज्ञ प्रार्थनाएँ कीं जिनकी पुकार को सुनकर ही भगवान ने 9 नवम्बर 2019 को माननीय सर्वोच्च न्यायालय के माध्यम से एक अभूतपुर्व निर्णय सुनाया' इसके साथ ही विनोद बंसल ने 5 अगस्त को होने वाले ऐतिहासिक भूमि पूजन कार्यक्रम तथा उसके उपरांत मंदिर निर्माण कार्य में कोई बाधा न आये इसके लिए सभी से मिलकर प्रभु श्री राम से प्रार्थना करने का आग्रह करते हुए कहा कि हमे आशा है कि भगवान उन सभी बाबर वादियों के पिछलग्गुओं को भी सद्बुद्धि देकर अयोध्या धाम कि तरफ़ मोड़ लेंगे।

राम मंदिर निर्माण मंगल कामना हवन में उपस्थित वैदिक विदुषी व यज्ञ की ब्रह्मा दर्शनाचार्य श्रीमती विमलेश आर्या ने कहा कि भगवान श्री राम का सम्पूर्ण जीवन देवमय था इसलिए मंदिर परिसर में यज्ञशाला और योगशाला के साथ-साथ एक वैदिक गुरुकुल भी होना चाहिए।

यह भव्य हवन कार्यक्रम दक्षिणी दिल्ली के संत नगर में स्तिथ आर्य समाज मन्दिर में आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में कोरोना महामारी से जुड़े सभी नियमो का पालन किया गया। कार्यक्रम में समाज सेवी संजय सिकरिया, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के टेकराज शर्मा, गुरमीत कौर, पार्वती देवी, छोटेलाल, विदुषी व दक्ष सहित अनेक श्रद्धालु सम्मिलित हुए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ