बाॅम्बे हाई कोर्ट के फैसले से पहले रबड़ फैक्ट्री के मालिकाना हक की लड़ाई सुप्रीम कोर्ट पहुंची, आशीष अग्रवाल ने सुप्रीम कोर्ट में पीआईएल जनहित याचिका की दाखिल

 

बरेली से संवाददाता डॉक्टर मुदित प्रताप सिंह की रिपोर्ट

जनपद बरेली फतेहगंज _ बाॅम्बे  हाई कोर्ट के फैसले से पहले सुप्रीम कोर्ट पहुंची जंग, जानकारी के अनुसार बरेली व्यापार मंडल के जिला अध्यक्ष भाजपा नेता आशीष अग्रवाल फतेहगंज पश्चिमी निवासी ने सुप्रीम कोर्ट में पीआईएल (जनहित याचिका) दाखिल की है, पीआईएल में लोन देने वाली एजेंसी पर कानूनी लड़ाई के जरिए केस को लंबित रखने का आरोप लगाए हैं, हालांकि पीआईएल पर सुप्रीम कोर्ट ने अभी कोई निर्णय नहीं लिया है, रबड़ फैक्ट्री करीब 23 साल से बंद है, इसकी 1380 एकड़ जमीन के मालिकाना हक को लेकर कानूनी लड़ाई चल रही है, हाईकोर्ट ने 12 अक्टूबर की तारीख सुनवाई के लिए तय कर दी, आशीष अग्रवाल ने पीआईएल ने कहा है कि बैंकों ने लोन रबर फैक्ट्री के प्रबंधन को मशीन और दूसरी संपत्ति के आधार पर दिया था।



सरकार द्वारा लीज पर दी गई जमीन को बैंक बंधक नहीं बना सकते, 1380 एकड़ जमीन सरकार की है, आशीष अग्रवाल ने सुप्रीम कोर्ट में जनहित में सरकार को रबड़ फैक्ट्री की जमीन पर औद्योगिक क्षेत्र विकसित करने का आदेश देने की गुहार लगाई है, बता दें कि शासन और प्रशासन फैक्ट्री की जमीन पर औद्योगिक क्षेत्र विकसित करने का ले आउट तैयार कर चुका है।                       





एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ