सर्च

स्वतंत्रता सेनानियो को उचित सम्मान दिलाना ही अमृत महोत्सव का मूल उद्देश्य- ओमप्रकाश



रिपोर्ट: इंद्रेश तिवारी (ब्यूरो चीफ जौनपुर)
बरसठी(जौनपुर)...... देश को आजाद हुए 75 वर्ष पूरे हो रहे हैं लेकिन देश को आजाद कराने में कुछ गुमनाम स्वतंत्रता सेनानी आज भी अपने सम्मान को तरस रहे हैं। जिन्हें राजनैतिक विद्वेष के चलते गुमनामी का दंश झेलना पड़ा।वह आज भी भारतीय संस्कृत व समाज से ओझल है। आजादी के 75 वर्ष बीतने के बाद इस वर्ष देश अमृत महोत्सव मना रहा है जिसका खास उद्देश्य यही है कि ऐसे गुमनाम चेहरे को ढूंढ कर देश के मानस पटल पर उनका नाम स्वर्ण अक्षरों में लिखा जा सके,जिन्होंने आजादी के लिए अपने प्राण हंसते-हंसते न्योछावर कर दिए और उनका नाम आज भी कोई नहीं जानता।

उक्त बातें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मछली शहर जिला प्रचारक ओमप्रकाश ने बरसठी नरसिंह मंदिर स्थित तिरंगा यात्रा के दौरान कही। अमृत महोत्सव समिति बरसठी द्वारा आज विशाल तिरंगा यात्रा का आयोजन किया गया जो दियावा महादेव से होकर कटवार निगोह मियाचक बाजार होते हुए नरसिंह मंदिर पर सभा के रूप में समाप्त हुई। इस आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम में राष्ट्रवादी लोगों ने भारत माता की जय का नारा लगाया और गाजे बाजे के साथ मां भारती की झांकी निकाली। इस अवसर पर वरिष्ठ भाजपा नेता विजय बिंद,इंद्रेश तिवारी जेपी मिश्र, सर्वेश शुक्ला खंड कारवां संदीप पाठक, सुनील दत्त मिश्र, संदीप सिंह प्रधान, पंकज मिश्रा, रत्नेश दुबे,अंबुज शुक्ला, मुकेश सिंह महामंत्री भाजपा आदि लोग बड़ी संख्या में मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ