सर्च

रुद्र शक्ति सेना कि नारी शक्ति अध्यक्षा लोगों को फ्री में करा रही है भोजन, साथ मे खाद्य सामाग्री भी कर रही है वितरण


वाराणसी (उत्तर प्रदेश): रुद्र शक्ति सेना सामाजिक संस्था की ओर से आज नारी शक्ति जिला वाराणसी अध्यक्षा सोनी हिन्दू के द्वारा एक बार फिर से उत्तर प्रदेश वाराणसी की सड़कों पर असहाय पीड़ित लोगों के लिए स्वयं से भोजन तैयार कर सड़को पर बैठे लाचार असहाय गरीब लोगों की मिटा रही है भूख एवं साथ मे अपने आसपास के गरीब परिवारो के लिए खाद्य सामग्री मे जैसे मसाला,नमक, रिफाइन,दाल,चना,आटा, चावल,बेसन,आलू, सब्जियों का प्रयोग कर रुद्र शक्ति सेना राष्ट्रीय हिन्दूवादी संस्था के नारी शक्ति जिला वाराणसी अध्यक्षा सोनी हिन्दू ने खुद से लगातार मेहनत कर असहाय गरीब लोगों के लिए अपने हाथो से खाना बनाकर जरूरत मंदों में वितरण करने का कई दिनों से लगातार यह कार्य कर रही है, जिला वाराणसी मे  कोरोना (Corona) महामारी के बीच गरीब व बेसहारा लोगों के साथ ही जरुरतमंदों की मदद के लिए कई समाजिक और धार्मिक संस्थायें आगे आई है।

ऐसी ही एक सनातनी संस्था रुद्र शक्ति सेना (Rudra Shakti Sena) भारत के के चार बड़े राज्यों के शहरों में हर दिन कुछ रुद्र सैनिक एवं नारी शक्ति की टीम सैकड़ों लोगों को भोजन मुहैया करा रही है,संस्था की ओर से लोगों की खाने की परेशानी दूर करने के लिए टोल फ्री नंबर भी जारी किया गया है, जिसके जरिए प्रतिदिन ऐसे असहाय लोगों की मदद करने का पूरा प्रयास किया जा रहा है,संस्था की ओर से लॉकडाउन के दौरान वाराणसी, प्रयागराज, कानपुर, अयोध्या, पटना,बलिया और लखनऊ में जरुरतमंद लोगों को भोजन मुहैया कराया जा रहा है,संस्था के संस्थापक व राष्ट्रीय अध्यक्ष महोदय श्री अनमोल हिन्दू गुरु देव के मुताबिक, पूरे लॉकडाउन के दौरान इसी तरह से भूखे लोगों की मदद करते रहने का प्रयास रहेगा। 

जिन क्षेत्रों में खाने की समस्या है या लोगों तक खाना किसी कारण से पहुंच नहीं पा रहा है उनके लिए टोल फ्री नंबर:8434888807, 7354803111, 7870300070 जारी किया गया है. इन टोल फ्री नंबर पर जरूरतमंद अपना नाम, पता, परिवार के लोगों की संख्या बताकर किसी भी समय खाना मंगा सकते है. संस्था का दावा है कि भारत के समस्त रुद्र सौनिक एवं सामाजिक लोगों के जुड़े होने के कारण हर शहर में (खाना) खाद्यान्न का जरूरतमंदो में खाना बनाकर वितरण किया जाता रहेगा, यह सेवा सिर्फ असहाय गरीब लोगों के लिए है यह सिलसिला लॉकडाउन के शुरू होने के साथ ही 14 मई आज तक लगातार जारी है। इस काम के लिये संस्था के 250 से अधिक स्वयंसेवक दिन- रात असहाय गरीब लोगों की मदद करने हेतु लगे रहते हैं।
rudrashaktisena18@gmail.com

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ